शुक्रवार, 21 दिसंबर 2012

भाजपा केन्द्र की सत्ता में आई तो साल में 15 सिलेण्डर देंगे


प्रभात झा को तीन साल का टर्म पूरा होने के कारण हटाया : जावड़ेकर
भोपाल 21 दिसंबर 2012। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर ने शुक्रवार शाम प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित पत्रकार-वार्ता में कहा कि हाल में सम्पन्न संसद के सत्र में कांग्रेसनीत सरकार ने आम जनता के मूलभूत सवाल मंहगाई के बारे में कुछ नहीं कहा और न ही कोई राहत दी। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनावों में भाजपा के नेतृत्व में सरकार आई तो हम साल में पन्द्रह रसोई सिलेण्डर लोगों को देंगे। श्री जावड़ेकर ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पद से विधानसभा आम चुनावों के एक साल पहले हटाये गये प्रभात झा के बारे में कहा कि उनका तीन साल का टर्म पूरा हो गया था तथा राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी के बारे में पार्टी के अंदर सर्वमान्य निर्णय लिया जायेगा।
श्री जावड़ेकर ने कहा कि टुजी स्पेक्ट्रम घोटाला, कामनवेल्थ घोटाला, कोल आवंन घोटाला के बाद अब समुद्र में नब्बे ब्लाक्स के आवंटन में भी घोटाला तथा 6 हजार करोड़ रुपये का हेलीकाप्टर घोटाला भी सामने आया है तथा हेलीकाप्टर क्रय घोटाला में इटली सरकार ने रिश्वत लेने वाले के बारे में पता चलाया है जिसके बारे में केन्द्र की यूपीए सरकार पूछताछ नहीं कर रही है। श्री जावेड़ेकर ने कहा कि यूपीए ने इन घोटालों के माध्यम से आकाश,पाताल,जमीन एवं समुद्र किसी को नहीं छोड़ा है। 
नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने सवाल पर जावड़ेकर ने कहा कि यह हमारी रणनीति होगी तथा सही समय पर इसकी घोषणा की जायेगी क्योंकि भाजपा में वंशवाद नहीं चलता है। दिल्ली के गेंग रेप कांड के बारे में उन्होंने कहा कि इसकी रोकथाम हेतु सम्मिलित प्रयास और वह भी रोज किये जाने की जरुरत है। उन्होंने देश के सभी राज्यों के गेंग रेप सम्बन्धी आंकड़ों को चिन्ताजनक कहा। 
हिमाचल प्रदेश के चुनाव नतीजों के बारे में जावड़ेकर ने कहा कि वहां परिणाम अपेक्षा के अनुसार नहीं आये तथा वह छोटा राज्य है तथा वहां पिछले बीस सालों में टे्रण्ड देखा गया है कि एक बार भाजपा और दूसरी कांग्रेस वहां सत्ता में आती है। फिर वहां एक प्रतिशत यानी तीस हजार वोट के अंतर से सरकार बदल जाती है। 
पदोन्नति में आरक्षण :
संसद में आये पदोन्नति में आरक्षण सम्बन्धी बिल के बारे में जावड़ेकर ने कहा कि यह बिल पारित नहीं हो पाया है तथा इसके प्रावधानों से भाजपा संतुष्ट नहीं थी क्योंकि संविधान की समानता के सिध्दान्त का इसमें पालन नहीं किया गया है तथा अभी देश में सुप्रीम कोर्ट का वह आदेश प्रभावी है जिसमें पदोन्नति में आरक्षण खारिज किया गया है। जावड़ेकर ने कहा कि भाजपा सामाजिक न्याय की पक्षधर है। सांसद संजय निरुपम द्वारा भाजपा की एक महिला सांसद का अपमान किये जाने पर जावड़ेकर ने कहा कि निरुपम को इस हेतु माफी मांगना चाहिये।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें