शुक्रवार, 28 दिसंबर 2012

अंतर्राष्ट्रीय नदी महोत्सव 8-10 फरवरी को बांद्राभान में


भोपाल 28 दिसंबर 2012। नर्मदा समग्र द्वारा तृतीय अंतर्राष्ट्रीय नदी महोत्सव 8-10 फरवरी 2013 को नर्मदा-तवा के संगम स्थान बांद्राभान जिला होशंगाबाद में आयोजित होगा। यह नदी महोत्सव हमारी नदियां - नीति, नियम और नेतृत्व की वैचारिक अवधारणा पर केंद्रित होगा।
नर्मदा समग्र के सचिव एवं महोत्सव के संयोजक अनिल माधव दवे ने बताया की इस महोत्सव में हमारी नदियां, यह भाव केंद्र में रखते हुए प्रदेश और देश की नदियों पर काम करने वाले लगभग एक हजार कार्यकर्ताओं का सहभाग होगा।
नर्मदा समग्र द्वारा पहला अंतर्राष्ट्रीय नदी महोत्सव 2008 में और दूसरा अंतर्राष्ट्रीय नदी महोत्सव 2010 में बांद्राभान में ही आयोजित किया गया था। इन दोनों आयोजनों में नदी के विभिन्न आयामों पर कार्य करने वाले देश-विदेश के कार्यकर्ता शामिल हुए थे। ''बांद्राभान घोषणा पत्र'' के नाम से नदियों के बारे में कार्य करने वाले लोगों के लिए दृष्टि दी गई थी। इसी अवधारणा को आगे बढ़ाते हुए हमारी नदियां - भाव जागरण का प्रयास इस नदी महोत्सव का है। नदी से जुड़े हुए सभी पक्षों को समाहित कर नीति, नियम और नेतृत्व केंद्रीय विषय रहेंगे।
नदियों के संबंध में नीतियों के बारे में विचार विमर्श करते हुए विधि संस्थाओं, विश्वविद्यालय, जंगल और जमीन पर काम करने वाली संस्थाओं के विशेषज्ञ और विद्यार्थी दूसरे दिन नियम विषय पर आधार पत्र तैयार करेंगे।
तीसरा दिन नेतृत्व विषय पर रहेगा। जिसमें प्रशासनिक, राजनैतिक, धार्मिक व आर्थिक ऐसे नेतृत्व का समागम होगा। जो नदी के बारे में विचार विमर्श कर एक व्यापक नीति के बारे में सहमति बनाएंगे। नर्मदा समग्र नर्मदा नदी पर लगातार सक्रिय है। इन सक्रिय एवं सहयोगी कार्यकर्ताओं का समागम भी नदी महोत्सव के दौरान होगा। नदी महोत्सव में नर्मदा समग्र अपनी गतिविधियों का लेखा जोखा प्रस्तुत करते हुए आगामी कार्य योजना रखेगा।

 - डॉ. नवीन जोशी 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें